Authors.com

Authors, Writers, Publishers, and Book Readers

 


दूरदर्शन पर जब रामायण आती थी
तो
पत्नी में मंथरा sma जाती थी
और तब
जब महाभारत चलने लगी थी
तो उसमे शकुनी की आत्मा निवास करने लगी थी
यह दोनों सीरियल चलते ही पता नहीं क्या हो जाता था
वैह चंडी का रूप हो जाती थी और उसका विवेक सो जाता था
फिर घर में द्वन्द चलता था
बन्ध चलता था
पर्त्येक वस्तु पर प्रतिबन्ध चलता था
और बचों पर भी डंडा पर्चंड चलता tha
मैंने कई बार सोचा
की बिदुर बन कर इस समस्या का समाधान धुन्दू
परन्तु हर बार पितामाह अड़े आते रहे
क्या करूँ वैह भी तो कलयुग के पितामाह हैं
आजीवन कुंवारे नहीं शादी शुदा हैं
फिर मैंने दूरदर्शन वालों से विनती के
की भाई तुम्ही तरस खाओ
बंद कर दो यह सीरियल
और मेरी बीवी को बचाओ
दूरदर्शन वाले यह सुनते ही भड़क उठे
फिर बोले
अरे भाड़ में जाये तुम्हारी बीवी
तुम्हारी अदद एक बीवी के लिए
क्या हम अपना लाखों का धन्दा बंद कर दें
हमें क्या लेना
तुम्ही अपना टीवी बेच दो
या फिर बीवी ही और खरीद लेना


पत्नी गुर्रा रही थी
तडपा रही थी
और मुझे कंजूस बता रही थी
अरे में तो फंस गई हूँ
तुम्हारे साथ कंजूसी की दलदल में धंस गई हूँ
२५ साल हुए हमारी शादी को
व्ही पुराना घर, घटिया फुर्नितुरे
और चार बर्तन जो मेरी माँ ने दिए थे
नए कब लोगे
ya सारी उम्र यूँ ही कंजूसी में काट जाओगे
उसकी माँ का नाम सुनते ही कलेजा बिंध जाता है
मैंने तड़प कर कहा
अरे तुम्हारी माँ ने दिए थे तो बढ़िया दिए होते
घटिया क्यों दिए तुम्हारी तरेह
अब में तोम्हार पेट भारू
ya यह सारा सामान ला कर यहाँ dharun
यह सुनते ही पत्नी तड़प उठी
और भी भड़क उठी
वाक् युद्ध अभी और चलता
की दरवाज़े पर किसी ने दस्तक लगे
दरवाज़ा खुला और उसकी एक प्रिय सहेली अन्दर आई
कैसी हो यार ठीक तो हो na
सहेली ने आते ही पुछा
तो पत्नी ने घूर कर मेरी तरफ देखा
फिर बोली
अरे काया खाक ठीक हूँ
मैं तो यूं ही मर जाउंगी
दुनिया में जैसी आई वैसी ही चली जाउंगी
कब से रो रही हूँ
बदल दो यह पुराना घर और फुर्नितुरे
पर इनके कान पर जून नहीं रेंगती
बस एक यही कसार बाकि है न की में इन्हें उठा कर बहार नहीं फेंकती
पत्नी ने फिर कडवी नज़र मुझ पर डाली
तो मैंने डर के मारे गर्दन झुका ली
सहेली ने सुझाव  दिया
अरे रोती क्यों हो यार
अभी मौका है कुछ कर दो
सब नया हो जायेगा
ये घर सारा फुर्नितुरे सारे के सारे  बर्तन
मेरी मानो तो

Views: 200

Comment

You need to be a member of Authors.com to add comments!

Join Authors.com

Sponsored Links

Most Active Members

1. Edward F. T. Charfauros

San Diego, CA, United States

2. RF Husnik

Green Bay, WI, United States

3. Rosemary Morris

Watford, United Kingdom

© 2021   Created by Authors.com.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service